Thursday, July 19th, 2018
मध्य प्रदेश

नदियों ने रोके रास्ते; बेतवा उफान पर, विदिशा का रायसेन और अशोकनगर से संपर्क टूटा

भोपाल. प्रदेश में दो दिनों से हो रही बारिश से नदियां उफान पर हैं। विदिशा, रायसेन, गुना सहित कई जिलों में नदियों के बहाव ने रास्ते रोक दिए हैं। बीते चौबीस घंटों में दमोह में 196 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। सागर में राजघाट डैम लबालब हो गया है। होशंगाबाद में तवा डैम में 2 फीट पानी बढ़ गया है। नर्मदा नदी के जलस्तर में में 8 फीट की वृद्धि हुई है। बाढ़ की आशंका को देखते हुए यहां 24 घंटे का अलर्ट जारी किया गया है। बारिश से सारनी में सतपुड़ा डैम के 5 गेट खोले गए।

1. विदिशा में बेतवा के बर्री घाट पुल और अम्बा नगर पुल पर पानी आने से गंज बासौदा

से सिरोंज, अशोकनगर और बीना का सड़क संपर्क टूट गया।
2. पग्नेश्वर पुल पर बेतवा का पानी आने से विदिशा का रायसेन से संपर्क टूट गया। कौड़ी नदी पर बनाए गए अस्थाई पुल के बह जाने से विदिशा का रायसेन का वैकल्पिक मार्ग भी बंद है।
3. अशोकनगर में गुरोध गांव के पास संगड़ नदी में बाढ़ आने से विदिशा का अशोकनगर से संपर्क कट गया है।
4. रायसेन में कौड़ी का अस्थाई पुल बह जाने से और पग्नेश्वर पुल पर पानी होने से रायसेन का विदिशा से संपर्क टूटा हुआ है। अगर विदिशा जाना है तो भोपाल होकर जाना पड़ेगा।
5. बेगमगंज से हैदरगढ़ और ग्यारसपुर जाने वाला मार्ग भी बंद है। यहां बीना नदी के पुल पर पानी चल रहा है।
6. गुना में डोगर और चंदेरी नदी के उफान पर होने से गुना-मधुसूदनगढ़ , फतेहगढ़-गुना और गुना जामनेर का रास्ता बंद है।

16 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी :मौसम विभाग ने प्रदेश के 16 जिलों में गुरुवार और शुक्रवार को भारी बारिश की चेतावनी दी है। इनमें से छह जिलों में बहुत भारी वर्षा की आशंका है। विदिशा, रायसेन, सीहोर, सागर, दमोह और छतरपुर जिलों में बहुत भारी वर्षा हो सकती है। इसके साथ ही 10 अन्य जिलों में भी भारी बारिश की आशंका है। विभाग के अनुसार, पूर्वी मध्यप्रदेश और उसके आसपास कम दबाव के क्षेत्र के साथ हवा के ऊपरी भाग में 7़6 किलोमीटर तक चक्रवात बना हुआ है। एक द्रोणिका राजस्थान के बीकानेर अजमेर से होकर अंबिकापुर, बालासोर से बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। जिसके चलते प्रदेश के बड़े हिस्से में मानसून सक्रिय है।

रेस्क्यू ऑपरेशन :3 शहरों में 5 जिंदगी बचाने की जद्दोजहद

भोजपुर के पास तालाब में डूबे भोपाल के दो युवक, एक को बचाया, दूसरे की तलाश

रायसेन जिले में भोजपुर के पास मेंदुआ के तालाब में दो युवक डूब गए। इनमें से एक को बचा लिया गया, जबकि दूसरे एक युवक का पता अभी तक नहीं चल पाया है। दोनों भोपाल के रहने वाले हैं। होमगार्ड की रेस्क्यू टीम घटनास्थल पर मोटर बोट तथा गोताखोरों के माध्यम से लापता शानू कुरेशिया नाम के युवक को तलाशने का प्रयास कर रही है।

सागर के खुरई में तीन लोग बाढ़ में फंसे हेलिकॉप्टर से निकालने का प्रयास विफल
सागर जिले के कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हैं। बीना, बेबस, धसान में उफान से गांव टापू बन गए हैं। नरयावली धसान नदी की बाढ़ में घिरे 5 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया। खुरई के मझेरा गांव के पास बीना नदी की बाढ़ में तीन लोग फंसे हैं। ग्वालियर से आए सेना के हेलिकॉप्टर से उन्हें दो बार निकालने का प्रयास किया गया, लेकिन दोनों बार विफल रहे। अब भोपाल से रेस्क्यू टीम बुलाई गई है।

भोपाल में डुग्गू की तलाश में जुटी 200 लोगों की टीम, आज फिर होगी सर्चिंग
भोपाल में नाले में बहे छह साल के भाग्य बंसल उर्फ डुग्गू को नगर निगम, एनडीआरएफ और एसडीईआरएफ की 200 लोगों की टीम दूसरे दिन भी खोज नहीं सकी। गुरुवार से फिर रेस्क्यू ऑपरेशन चलेगा।